Friday, August 26, 2011

मेरी बातें ....


बस तुम से 
तुम तक 
रहे मेरी बातें
जब कभी तुम्हें याद आये 
वो चांदनी रातें 
ठीक मेरी तरह 
हमेशा सुरक्षा का एक घेरा चाहती हैं 
मेरी बातें ....

2 comments:

दिल्ली में बारिश और मध्य रात्रि

इस वक्त जम कर बरस रहा है मेघ जाने किस गम ने उसे सताया है वह किस दर्द में चीख़ रहा है ? गौर से सुनो वो हमारी कहानी सुना रहा है | ...